Palanhar Yojana Form Rajasthan 2020-21 | पालनहार योजना ऑनलाइन आवेदन |

Palanhar Yojana Form Rajasthan 2020-21 | पालनहार योजना ऑनलाइन आवेदन | पालनहार योजना लिस्ट 2020 | पालनहार योजना राजस्थान 2020-21 Pdf Download |

हेलो दोस्तों जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि राजस्थान सरकार द्वारा पालनहार योजना(Palanhar Yojana) की शुरुआत की गई इस योजना का शुरू करने का मुख्य कारण राज्य में रह रहे अनाथ बच्चों का पालन पोषण शिक्षा देने के लिए उनको खुद पर पैरों पर खड़ा होने के लिए सरकार उनको सहायता राशि प्रदान करता है जिसमें जो भी रिश्तेदार हो वह पालनहार ने उन बच्चों का नाम जुड़वा कर सरकार द्वारा राशि प्रदान कर सकता है जिसमें वह अपने जीवन यापन कर सके पढ़ाई कर सके खुद के पैरों पर खड़ा हो सके इस तरह हमारी सारी जानकारी योजना के बारे में पढ़ने के लिए आंतक आर्टिकल को जरूर पढ़ें

BPL राशन कार्ड फॉर्म डाऊनलोड क्लिक करे

Palanhar Yojana Form Rajasthan 2020-21

पालनहार योजना(Palanhar Yojana) की शुरुआत राज्य सरकार द्वारा अनाथ बच्चों को भरण पोषण के लिए चिकित्सा शिक्षा प्राप्त करने के लिए शुरुआत की गई इस योजना के तहत अगर अनाथ बच्चे हैं तो उनके रिश्तेदार धारा पालनहार योजना में नाम जुड़वा कर 2 साल की उम्र होने पर आंगनवाड़ी केंद्र में पढ़ने के लिए₹500 प्रति महीने दिए जाएंगे तथा 5 वर्ष पूर्ण होने के बाद आगे पढ़ने के लिए हजार रुपए तक प्रतिमाह 18 साल तक उम्र होने तक तथा बूट कपड़ा आदि पालन पोषण के लिए सरकार द्वारा अनाथ बच्चों को आर्थिक सहायता दी जाती है

Palanhar Yojana Form Rajasthan 2020-21

पालनहार योजना के पात्र बच्चों की लिस्ट

  • अनाथ बच्चे या आजीवन कारावास या न्यायिक प्रक्रिया में मृत्युदंड प्राप्त हो माता पिता की संतान
  • पेंशन धारक या विधवा माता कि बच्चे कोमा नाता जाने वाली माता की संतान
  • पुनर्विवाह करने वाले विधवा माता की संतान
  • कुष्ठ रोग से पीड़ित माता-पिता की संतान
  • एड्स पीड़ित माता-पिता की संताने कामा विकलांग माता-पिता की संतान
  • तलाकशुदा या परित्याग महिला की संतान

छात्रवृति फॉर्म ऑनलाइन आवेदन के लिए क्लि

पालनहार योजना के पात्र बच्चे

  • पालनहार योजना के पात्र बच्चे अनाथ होने चाहिए या
  • अनाथ बच्चों की उम्र 18 साल से कम होनी चाहिए
  • पालनहार योजना में नाम जुड़वाने के लिए उनकी वार्षिक आय एक लाख से कम होनी चाहिए
  • या उसके माता-पिता विकलांग या परित्याग तलाकशुदा होने चाहिए
  • या माता-पिता की किसी एक की मृत्यु होने की दशा में या परिवार का अन्य भरण पोषण का संसाधन ना होना
  • सिलिकोसिस पीड़ित की संतान
  • इसमें परिवार की भरण पोषण का कोई अन्य साधन ना हो
  • जिसका परिवार गरीबी रेखा से नीचे हो

>>>पालनहार फॉर्म डाऊनलोड><<

यह भी पढ़े :-

click Here Buttan

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!